सुदर्शन

धरती को बचाने का सुख (व्यंग्य/कार्टून)

Posted by K M Mishra on March 29, 2010

धरती को बचाने के लिये सवा सौ देशों ने ‘अर्थ आवर’ में बत्ती बुझाई ।

<=काश हमारे यहां भी बिजली आती तो हम भी धरती को बचाने के लिये एक घंटे के लिये सभी स्विच आफ कर देते । हमारे गांव में तो अभी सिर्फ बिजली के खंभे ही गड़े हैं । ट्रांसफार्मर लगना अभी बाकी है । सरपंच जी कहते हैं कि अगले लोकसभा चुनाव तक इंतजार करो । नेता जी अपने वायदे के पक्के हैं । बिजली जरूर आयेगी ।

3 Responses to “धरती को बचाने का सुख (व्यंग्य/कार्टून)”

  1. shekhar said

    इस जानकारी के लिए आभार

  2. बहुत आशावादी लगते हैं आप..😉

  3. finansiera din utbildning…

    […]n Do you mind if I quote a few of your posts as long as I provide credit and rx[…]…

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: