सुदर्शन

नई साईट पर जायें – www.ksudarshan.in

Archive for the ‘मौसम’ Category

कलमुंही भैंसों की मौज (व्यंग्य/कार्टून)

Posted by K M Mishra on July 16, 2009

=>री बहना, थोड़ा तेज पांव चला । तुझे पता नहीं कि कल रात हुयी बारिश से परेड ग्राउंड में एक बड़ा तालाब बन गया है । आस पड़ोस की सभी भैंसे सुबह से ही वहां मौज कर रही हैं ।

=>जाओ, जाओ अनपढ कहीं की । आज का अखबार पढती तो परेड ग्राउंड न जाकर मुंबई की ट्रेन पकड़ती । तेज बारिश के कारण अमिताभ बच्चन के बंगले प्रतीक्षा में भी एक बड़ा सा तालाब बन गया है । मैं तो वहीं जाने की तैयारी कर रही हूं । अमिताभ जी अपने इलाहाबाद के हैं । क्या वो दो दिन के लिए हमारी मेजबानी भी न करेंगे ।

मित्रों इस ऐतिहासिक परेड ग्राउंड में कभी 1857 की क्रं।ति का बिगुल बजा था । माघ मेले और कुंभ मेले के दौरान परेड ग्राउंड में तिल रखने की भी जगह नहीं होती है । बरसात के मौसम को छोड़ कर बाकी समय लड़के यहां क्रिकेट खेला करते हैं । और बरसात में यहां भैंसों का एकछत्र राज होता है । वे यहां बने बरसाती तालाबों में आनन्द के साथ जल किलोल करती हैं और हम जैसे लोग उनकी फोटो खींच कर ब्लागिंग को नया आयाम देते हैं ।

Advertisements

Posted in कार्टून, बारिश, मौसम, हिन्दी हास्य व्यंग्य, cartoon, comedy, Hasya Vyangya, Humor | Tagged: , , , , , , , | 4 Comments »

उत्तर भारत में सूखे की आशंका (व्यंग्य, कार्टून)

Posted by K M Mishra on June 27, 2009


=>सखी, इस भीषण गर्मी में चार कोस दूर तालाब से मटकी में पानी भर कर लाते-लाते मेरे पैरों में छाले पड़ गये  । एक दिन धरती माता की तरह मेरी कमर भी सूख कर चटक जायेगी ।


=>ए खुदा, पिछले साल मेरे शौहर ने बाढ राहत में खूब पैसा कमाया था, इस साल सूखा राहत में इनको फिट करवा दो । पुरानी स्कोडा कार बदल कर इस साल नई मर्सडीज़ बेंज लेने का इरादा है ।

Posted in आर्थिक, पर्यावरण, बाजार, भारत, मीडिया, मौसम, राष्ट्रीय, सूखा, हिन्दी हास्य व्यंग्य, cartoon, comedy, Hasya Vyangya, Humor | Tagged: , , , , , , , , , , , , , | 13 Comments »

खाना ख़जाना: भाग – 1 (व्यंग्य/कार्टून)

Posted by K M Mishra on June 10, 2009

यह व्यंग्य लेख एक दूसरी  साईट पर ट्रान्सफर कर दिया गया है. लेख पढने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें.

खाना खजाना – १

Posted in कार्टून, खाना ख़जाना, बाजार, मीडिया, मौसम, सामाजिक, स्वास्थ्य, cartoon, Hasya Vyangya, Humor | Tagged: , , , , , , | 12 Comments »

मौसम की मार (व्यंग्य, कार्टून)

Posted by K M Mishra on May 13, 2009

आंधी-पानी से उत्तर प्रदेश में 28 की मौत । बिजली के खंभे उखड़ने से बिजली, पानी की किल्लत । जन जीवन प्रभावित ।

=>इसीलिए मैं शहर छोड़ कर जंगल में रहने लगा । एक तो बिजली, पानी के बिल के साथ दर्जन भर टैक्स भरो, ऊपर से आंधी-तूफान में बिजली के टूटे तारों से चिपक कर जान दे दो या बरसात में अपने घर में घुसे घुटने तक नाले के गंदे पानी में डूबकर आत्महत्या करलो। अपन तो यहां खुली हवा में चैन से रहते हैं । न उल्टे सीधे चैनलों की चिक-चिक और न ट्रैफिक की भीड़, शोर-शराबा और प्रदूषित वातावरण ।

Posted in आंधी-पानी, कार्टून, प्रदूषण, भ्रष्टाचार, मौसम, राष्ट्रीय, सामाजिक, हिन्दी हास्य व्यंग्य, cartoon, Hasya Vyangya, Humor | Tagged: , , , , , , | 4 Comments »