सुदर्शन

दारू सुलभ, आलू सस्ती । खींचो पापड़ संग विस्की । (हास्य/व्यंग्य: होली)

Posted by K M Mishra on March 1, 2010

यह व्यंग्य लेख एक दूसरी  साईट पर ट्रान्सफर कर दिया गया है. लेख पढने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें.

दारू सुलभ, आलू सस्ती । खींचो पापड़ संग विस्की ।

7 Responses to “दारू सुलभ, आलू सस्ती । खींचो पापड़ संग विस्की । (हास्य/व्यंग्य: होली)”

  1. बसंत आ रहा है । पड़ोसी का आम बौरा रहा है । इसकी एक डाल मेरे आंगन में भी आ जाती तो दशहरी का आनंद आ जाता . शासकीय राजस्व बढ़ाने के लिए सरकारे गली गली दारू के ठेके बढ़वा रही है .
    बेहतरीन .
    होली पर्व पर शुभकामनाये और बधाई .

  2. सटीक आलेख!!

    ये रंग भरा त्यौहार, चलो हम होली खेलें
    प्रीत की बहे बयार, चलो हम होली खेलें.
    पाले जितने द्वेष, चलो उनको बिसरा दें,
    खुशी की हो बौछार,चलो हम होली खेलें.

    आप एवं आपके परिवार को होली मुबारक.

    -समीर लाल ’समीर’

  3. गिरिजेश राव said

    सच कहूँ तो आप का यह लेख मुझे जलन से जला गया। गुदगुदी और चिकोटी को साथ ले चलता हुआ – बिना किसी शोर शराबे के । आनन्द में इतना डूबा कि वर्तनी दोष दिखते हुए भी नहीं दिखे। आनन्दोपलब्धि के पश्चात अब ब्लॉग जगत के पिछले कई दिनों के छूटे पढ़ना आरम्भ कर रहा हूँ।

  4. sunil pandey said

    अभी संसद के शीत अधिवेशन में बौराये हुये सांसदों को देख रहा था। बहुत अच्‍छा लिखा बॉस आपने। गर्दा काट दिया। मजा आ गया।

    सुनील पाण्‍डेय
    इलाहाबाद।

  5. nice

  6. Macht sich bei Ihnen Langeweile breit, stresst die Arbeit, nervt der Chef oder motzt die Freundin etwa? Lassen Sie sich nicht stressen, bleiben Sie ruhig und gelassen und gönnen Sie sich eine Auszeit! Kostenlose Spiele spielen ist angesagt, denn ein unterhaltsames Online-Spiel spielen belebt den tristen Alltag!

  7. Kay Green said

    As a Newbie, I am constantly searching online for articles that can aid me. Thank you

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: