सुदर्शन

बिना पिये ही बहक गये प्रचंड । (व्यंग्य/कार्टून)

Posted by K M Mishra on August 7, 2009

=;भारत और अमेरिका ने बनायी थी नेपाल के रास्ते चीन पर हमले की योजना ।

=>हिक्क ! कहो भाई प्रचंड, जरा ये तो बताओ कि तुम पशुपतिनाथ बाबा का कौन सा प्रसाद खाते हो जिसके खाने से घड़ों शराब का नशा हो जाता है । हिक्क । या नेपाल की सत्ता हाथ से जाने का तुमको इत्ता बड़ा धक्का लगा जिससे तुम्हारी खोपड़ी में शार्टशर्किट हो गया । हिक्क । प्यारे तुम तो इस तरह प्रलाप कर रहे हो मानो तुम्हारी माशूका किसी गैर मर्द के साथ फरार हो गयी हो । माना नशा करने से दिल का दर्द कम हो जाता है लेकिन इतनी भी बेखुदी अच्छी नहीं दोस्त । इसमें तुम्हारा कोई कसूर नहीं है । तुम्हारी शिक्षा दीक्षा भी तो हमारे यहां के टुच्चे कम्युनिस्टों के यहां हुयी है । चीनी सिक्कों पर अपना ईमान बेचने वाले और सिखा ही क्या सकते हैं । हिक्क । हमने तो कभी किसी देश पर आक्रमण नहीं किया । जब भी किसी को धोया तो अपनी रक्षा में ही धोया । हिक्क । आजकल लालगढ़ में तुम्हारी जात वालों को धो रहे हैं । तुम भी आ जाओ । लगे हाथ तुम्हारी भी ड्राई क्लीनिंग हो जायेगी । >

4 Responses to “बिना पिये ही बहक गये प्रचंड । (व्यंग्य/कार्टून)”

  1. लेकिन इतनी भी बेखुदी अच्छी नहीं दोस्त ।
    ऐसे निघरघट को क्या दोस्त कहना!🙂

  2. गिरिजेश राव said

    ड्राई क्लीनिंग क्यों? भिगा भिगा के धोवो

    धुलाई अति आवश्यक है।

    बावलों की बात का बुरा नहीं मानते। बेकार में सेंटी हो रहे हैं।

  3. सही कहा मित्र

  4. ashish rai said

    nice

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: