सुदर्शन

सानिया की मोहब्बत में है दम (व्यंग्य/कार्टून)

Posted by K M Mishra on July 29, 2009

जीत जायेंगे हम, तू अगर संग है । ज़िंदगी हर कदम एक नई जंग है ।

सानिया मिर्ज़ा और उनके बचपन के मित्र मुहम्मद सोहराब मिर्ज़ा की सगाई के बाद ये कयास लगाये जा रहे थे कि सानिया मिर्ज़ा का कैरियर अब शायद ज्यादा दिन नहीं चलेगा । लेकिन बचपन का प्यार परवान चढ़ा और सगाई के बाद अपने पहले ही टूर्नामेन्ट में सानिया ने अपनी मोहब्बत की ताकत का दमदार प्रदर्षन करते हुये अमेरिका के लेक्सिंगटन शहर में आई.टी.एफ. चैलेंजर टेनिस टूर्नामेन्ट का फाइनल फ्रांस की जूली कोइन को हरा कर जीत लिया ।

ये खबर जब सिंगापुर में हस्पताल की बेड पर कराहते अमर सिंह ने पढ़ी तो वो बुदबुदाये ”सानिया की मुहब्बत में हे दम, क्योंकि यू.पी. में था अपराध कम ।“ पास ही सपत्नी बैठे अमिताभ बच्चन ने अमर सिंह का हाथ छूकर कहा । ”अमर भइया! अब पिछली बातें भूल जाइये । छोटी-छोटी बातों को दिल पर मत लिया कीजिये और मैं तो कहता हूं कि किडनी पर भी मत लिया कीजिये ।”

अमर सिंह आजकल सिंगापुर के प्राइवेट हस्पताल में अपनी किडनियां झड़वा-फुकवा रहे हैं ।

8 Responses to “सानिया की मोहब्बत में है दम (व्यंग्य/कार्टून)”

  1. मज़ेदार

  2. एक निरीह सवाल: बातें किडनी पर कैसे ली जाती हैं?

  3. K M Mishra said

    ये निरीह प्रश्न अमिताभ बच्चन और अमर सिंह को प्रेषित कर दिया गया है । उत्तर की प्रतीक्षा है ।

  4. I like your blog.

  5. I don’t even understand how I ended up right here, but I believed this post was great. I do not understand who you might be however certainly you’re going to a well-known blogger in case you aren’t already😉 Cheers!

  6. Attractive section of content. I just stumbled upon your weblog and in accession capital to claim that I acquire actually loved account your weblog posts. Anyway I will be subscribing in your feeds or even I fulfillment you access constantly rapidly.

  7. F*ckin’ amazing things here. I’m very glad to see your post. Thanks a lot and i am looking forward to contact you. Will you kindly drop me a mail?

  8. They negotiate a lease period, for the duration of which the organization may use the trucks.
    Also like other loans, zero down payment loans often have some restrictions,
    like what sort of trucks and what year models can be
    covered.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s